समाचार

भक्तामर महामंडल विधान और पंचामृत अभिषेक

भीलूड़ा। अन्तर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज की 48 दिवसीय मौन साधन चल रही है। उसके अंतर्गत शुक्रवार को भक्तामर विधान के 19वें दिन गुवाहाटी निवास श्रीमती रंजू अजित जैन में विधान करवाने का पुण्यार्जन किया। पंचामृत अभिषेक करने का लाभ कनकमल जैन, जयंतिलाल जैन भीलूड़ा को मिला।  

इसी कार्यक्रम के कुछ चित्र और वीडियो….

Spread the love

Related posts

गिरारगिरी क्षेत्र के निकट नदी में 565 वर्ष प्राचीन प्रतिमा मिली

admin

स्वस्तिधाम जहाजपुर में 13 मार्च को राष्ट्रीय युवा सम्मेलन

admin

संस्कार शिविर से ही होगा बच्चों के भविष्य का निर्माण – मुनि श्री पूज्य सागर जी महाराज

admin

Leave a Comment